गरिमा मौर्य

दृष्टिकोण…मुझे वही आकार भाएं क्यो

।।दृष्टिकोण।। एक दृष्टि में कितने दृष्टिकोण है यह स्थिति पर निर्भर करता है क्योंकि हर व्यक्ति ने अपनी सूझबूझ अपनी...

समस्याएं ।। अश्रु बहाने से आंखें कमजोर होती है समस्याएं नहीं

।। समस्याएं ।। समस्याएं ....समस्याएं किसके जीवन में नहीं है किन्तु उससे बाहर निकला जा सकता है क्योंकि यह जीवन...

उनकी बात करते हैं… अपरिचित

।। अपरिचित ।। यात्रा में मिलने वाला हर व्यक्ति परिचित नहीं होता किन्तु इसी यात्रा में मिलने वाला कोई व्यक्ति...

व्यक्तित्व||जिन्दगी संभलने लगी

||व्यक्तित्व से मिलना || जीवन में कई बार हम ऐसे व्यक्ति से मिलते हैं जो जीवन में आते ही हैं...